BG
Media Promotions                              
  • Columns
आचार्य/आचार्यो : अनुपम जौली जी
 
  
अनुभव: 21 वर्ष
शिक्षा: परस्नातक ज्योर्तिविज्ञान
स्थाई पता: 3/8, प्रधान मार्ग, मालवीय नगर जयपुर-302017, राज  
संपर्क सूत्र:   +91 9821-608066, 9821-608067(What'sapp no).
 
Email:   researchastroindia@gmail.com  
परिचय-:

आचार्य अनुपम जौली जी विश्व के जाने माने ज्योतिषाचार्यों में से एक हैं। आचार्य जी को रमल शास्त्र, वास्तु शास्त्र, कृष्णमूर्ति ज्योतिष और हस्त रेखा शास्त्र के विशेषज्ञ माने जाते हैं।

आचार्य जी का जन्म एक साधारण परिवार में हुआ, जहां ज्योतिष का कोई लेना-देना नहीं था और न ही उनके परिवार वालों को उसमे विश्वास था, लेकिन आचार्य जी का रुझान शुरु से ही ज्योतिष विज्ञान की ओर था। अपने दृढ़ निश्चय की वजह से आज उनकी गिनती विश्व के जाने-माने ज्योतिषाचार्यों में की जाती है।

आचार्य जी को रमल शास्त्र एवं वास्तु शास्त्र के क्षेत्र में काफी गहन शोध किया है। रमल शास्त्र भूत, भविष्य, वर्तमान, रूप, गुण, आयु तथा मृत्यू हर प्रकार के शुभाशुभ फल ज्ञात करने की प्राचीन विद्या है। वहीं वास्तु शास्त्र में भी आचार्य अनुपम जौली जी की कोई बराबरी नहीं है।

आचार्य जी का कहना है कि हम अपने जीवन में एक बार घर बनाते हैं, लेकिन घर हमें हर रोज बनाता है। आचार्य जी ने अपने शोध में पाया है कि अगर कोई भी घर या इमारत वास्तु के नियमों के अनुसार नहीं बनाया गया हो उसमे रहने वाले लोगों को हमेशा आर्थिक, पारिवारिक एवं स्वास्थ्य से संबंधित परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

ये परेशानियां पीढ़ी दर पीढ़ी बनी रहती है और कोई भी कर्म-कांड, पूजा-पाठ और तंत्र मंत्र इसे ठीक नहीं कर सकते हैं। इसलिए ये जरुरी है कि घर वास्तु के अनुसार ही बनाए जाएं।

आचार्य अनुपम जौली जी की भविष्यवाणी बिल्कुल सठीक होती है और यही वजह है कि आज बड़े-बड़े उद्योगपति, व्यापारी, निवेशक, राजनीतिज्ञ आदि उनसे परामर्श लेते हैं। पारिवारिक मामले हो, आर्थिक मामले हो या फिर शिक्षा, रोजगार आदि से संबंधित कोई भी मामले हो आचार्य जी सही मार्गदर्शन करते हैं।


अनुपम जौली जी के आगामी कार्यक्रम:

Designed & Developed By : Virtuoso IT Solutions Pvt. Ltd.